Latest Update

तो इन कारणों से महिलाओं को होता है ‘व्हाइट डिस्चार्ज’………

तो इन कारणों से महिलाओं को होता है ‘व्हाइट डिस्चार्ज’………

महिलाओं के निजी अंगों, उनसे जुड़ी बीमारियों और समस्याओं के बारे में हमारा समाज आज भी उतना जागरूक नहीं है। सेक्स की तरह ही ये भी एक ऐसा मुद्दा है जिसके बारे में खुलकर बात करने से लोग हिचकिचाते हैं। यहां तक महिलाएं और लड़कियां खुद इस बारे में बात नहीं करना चाहती हैं। और तो और ये सोचती रहती हैं कि इसका निदान कैसे किया जा सकता है? ये तो प्राकृतिक समस्या है।

महिलाओं में होने वाले वेजाइनल डिस्चार्ज को ल्यूकोरिया या व्हाइट डिस्चार्ज अथवा हिंदी में श्वेत प्रदर कहा जाता है। यह महिलाओं में होने वाली एक आम समस्या है जिसमें पीरियड्स के एक-दो दिन पहले या पीरियड्स के एक-दो दिन बाद योनि से सफेद चिपचिपा और गाढ़ा द्रव निकलता है।

फैन्‍स के सामने सरेआम बिना कपड़ों के ही आ गई ये मशहूर एक्‍ट्रेस, तस्‍वीरें तेजी से हो रही है वायरल….

इसे लेकर थोड़ी बहुत समस्या तो सभी महिलाओं में होती है लेकिन अगर समस्या बढ़ जाए तो कारण जानना बहुत जरूरी हो जाता है। तो फिर देर किस बात की है। आइए जानते हैं पूरा मामला कि आखिर क्यों होता है महिलाओं में व्हाइट डिस्चार्ज।

फंगल इन्फेक्शन
अगर आप वेजाइनल पार्ट की साफ-सफाई ठीक से नहीं करती हैं या बिना सोचे-समझे पब्लिक टॉयलेट का इस्तेमाल कर लेती हैं तो इससे भी व्हाइट डिस्चार्ज हो सकता है।

हार्मोनल प्रॉब्लम
यदि आप पीरियड्स, प्रेगनेंसी या मेनोपोज के दौर से गुजर रही हैं तो इस बात की आशंका और ज्यादा बढ़ जाती है कि आपको श्वेत प्रदर की समस्या हो।
एबॉर्शन और शारीरिक संबंधो की वजह से कैसे होता है व्हाइट डिस्चार्ज, आगे जानिए।

एबॉर्शन
बार-बार एबॉर्शन या गर्भपात करवाने से भी ये समस्या हो सकती है क्योंकि बार-बार गर्भपात करवाने से इंटरनल इन्फेक्शन या इंजरी का खतरा रहता है।

डाइबिटीज
डायबिटीज का इससे सीधा कनेक्शन है। डायबिटीज की बीमारी वेजाइना में यीस्ट इन्फेक्शन होने का कारण बनती है। इससे व्हाइट डिस्चार्ज होता है।
सेक्स और व्हाइट डिस्चार्ज का कनेक्शन आगे जानिए।

फिजिकल रिलेशन
गलत तरीके से संबंध बनाने और गर्भ निरोधकों के गलत उपयोग की वजह से इंटरनल इंजरी होती है जो श्वेत प्रदर को बढ़ावा देती है।

अनियमित डाइट
अनियमित खानपान या खाने में जंक फूड के अधिक इस्तेमाल से या अधिक उपवास रखने से भी हमारा सिस्टम गड़बड़ा जाता है। इससे व्हाइट डिस्चार्ज की समस्या उत्पन्न होती है।
आगे जानिए गर्भ निरोधक गोलियों की वजह से कैसे होता है व्हाइट डिस्चार्ज।

गर्भ निरोधक
गर्भ निरोधक गोलियां, अधिक सेक्स, क्रीम्स का अधिक इस्तेमाल या इंटरनल कान्ट्रसेप्टिव की वजह से वेजाइना में इन्फेक्शन हो जाता है, जो व्हाइट डिस्चार्ज का कारण बनता है।

सेक्सुअल बीमारियां
ज्यादा देर तक शारीरिक संबंध बनाने से गनोरिया, क्लैमाइडिया जैसी सेक्सुअल बीमारियां वेजाइना में प्रवेश कर जाती हैं। इस तरह इन्फेक्शन फैलता है और व्हाइट डिस्चार्ज होने की वजह पैदा होती है।
व्हाइट डिस्चार्ज से बचाव के तरीके आगे जानते हैं।

डॉक्टर से लें सलाह
व्हाइट के अलावा अगर भूरा या लाल द्रव वेजाइना से निकल रहा है जो बहुत चिपचिपा और बदबूदार है तो बिना लेट किए तुरंत डॉक्टर को दिखाएं।

ऐसे करें बचाव
इसके अलावा इससे बचने के लिए वेजाइनल पार्ट की देखभाल ठीक से करें। अच्छी क्वालिटी के अंडर गारमेंट्स का इस्तेमाल करें। हेल्दी डाइट लेकर खूब पानी पिएँ।

दोस्तों.. NewsHut24 की मोबाइल एप को डाउनलोड कीजिये....गूगल के प्लेस्टोर में जाकर NewsHut24 टाइप करे और यहाँ क्लिक कर के एप डाउनलोड करे..धन्यवाद. पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर। LIKE कीजिए NewsHut24 का facebook पेज। भी लाइक करे. कृपया अपने बहुमूल्य सुझाव भी दें. E-mail : - YourFriends@newshut24.com



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *