Latest Update

चोरी के आरोप में दलित दिव्यांग को दबंगों ने पीटा…

चोरी के आरोप में दलित दिव्यांग को दबंगों ने पीटा…

हापुड़ : यूपी के जनपद हापुड़ के थाना सिम्भावली क्षेत्र के गांव देवली में तीन युवकों ने दो युवकों पर चोरी का आरोप लगाते हुए उन्हें बंधक बना लिया। आरोपियों ने दोनो युवकों में से एक दिव्यांग दलित युवक अनिल को हाथ बांधकर लटका दिया और मुंह में कपड़ा ठूंस लाठी डंडो से जमकर पीटा। दिव्यांग दलित युवक खुद को बेगुनाह बताता रहा और दबंगो से भीख मांगता रहा लेकिन दबंगो ने उसकी एक ना सुनी। इतना ही नही दबंगो ने तालिबानी फरमान सुनाते हुए दिव्यांग युवक के बायें हाथ का अंगूठा भी काट लिया। इस दौरान एक आरोपी ने इस दरिंदगी का वीडियो भी बना लिया और सोशल मीडिया पर वारयल कर दिया। दलित दिव्यांग ने थाने में तहरीर देकर तीन युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। लेकिन आरोपी अभी भी पुलिस गिरफ्त से फरार चल रहे है।

गंभीर रूप से घायल अनिल अपने परिवार का पालन पोषण कर रहा था और अपने लिए दो टाइम की रोटी के लिए काम कर रहा था। शायद यही बात दबंगो को बुरी लग रही थी। जिसको लेकर दबंगो ने एक षड्यंत्र रचा और दिव्यांग युवक पर चोरी का आरोप लगाते हुए उसको एक कमरे में बंद कर दिया। दिव्यांग के साथ एक दूसरे युवक को भी बंधक बनाया गया और रस्सी से टांग दिया गया। फिर दोनों के मुँह में कपड़ा ठूंसकर दोनो के साथ लाठी डंडो से जमकर पिटाई की गई। इतना ही नही दबंगो ने दिव्यांग दलित युवक को लाठी डंडो से इस कदर पीटा की उसका पेशाब तक पेंट में निकल गया।

दिव्यांग दलित युवक रहम की भीख मांगता रहा लेकिन किसी ने भी उसकी एक ना सुनी और कई घंटों तक दिव्यांग को बंधक बनाकर जमकर पीटा। जब ग्रामीणों को इस बात का पता चला तो ग्रामीणों ने दिव्यांग दलित को बंधक मुक्त कराया।

बता दे कि देवली गांव निवासी एक युवती का घर से कुछ दिन पहले पर्स चोरी हो गया था। इसी शक में उसके रिश्ते के भाई व थाना क्षेत्र के गांव ढाना निवासी कपिल ने इस घटना को अंजाम दिया। आरोपी ने अपने साथी भरत एवं नूतन के साथ मिलकर तालिबानी फरमान सुनाते हुए दोनों के हाथ रस्सी से बांध कर छत से लटका दिया और पिटाई कर दी। चीख निकलने पर उनके मुंह में कपड़ा ठूंस दिया गया। दिव्यांग पीड़ित अनिल द्वारा शोर मचाए जाने पर उसके बाएं हाथ का अंगूठा भी काट दिया। देर शाम तक जब वह घर नहीं पहुंचा तो परिजन ने पुलिस को उसके अपहरण की सूचना दी। पीड़ित के परिजन ने ढाना गांव पहुंच कर आरोपित से उसके संबंध में जानकारी करनी चाही और उसके मकान का दरवाजा खुलवाने का प्रयास किया। लेकिन उन्हें इसमें सफलता नहीं मिल पाई। इस बीच मौके पर जुटे ग्रामीणों ने किसी तरह कपिल के मकान का दरवाजा खुलवाया तो अनिल एवं रोहित वहां बंधक बने मिले। उन्होंने दोनों पीड़ितों को बंधनमुक्त कराया। इस बीच तीनों आरोपित मौके से फरार हो गए। घायल अनिल को परिजन द्वारा अस्पताल में भर्ती कराया गया है ।

दोस्तों.. NewsHut24 की मोबाइल एप को डाउनलोड कीजिये....गूगल के प्लेस्टोर में जाकर NewsHut24 टाइप करे और यहाँ क्लिक कर के एप डाउनलोड करे..धन्यवाद. पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर। LIKE कीजिए NewsHut24 का facebook पेज। भी लाइक करे. कृपया अपने बहुमूल्य सुझाव भी दें. E-mail : - YourFriends@newshut24.com



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *