Latest Update

Holi 2018 : घर पर बनाएं नेचुरल कलर, होली में रहें सुरक्षित….

Holi 2018 : घर पर बनाएं नेचुरल कलर, होली में रहें सुरक्षित….

सहारनपुर : अगर आप चाहते है कि आपके होली के रंग में कोई भंग न पड़े तो इसके लिए आप नेचुरल कलर का इस्तेमाल क्यों न करें। जो कि इको फ्रेंडली होने के साथ-साथ आपके शरीर के लिए फायदेमंद होते है। इन्हें आप घर पर भी आसानी से बना सकते है। तो फिर देर किस बात कि इस बार होली में में नेचुरल रंगों का मजा लें।

नारंगी रंग

इसके लिए हरसिंगार के फूलों का इस्तेमाल कर सकते है। इसके लिए इन्हें पानी में भिगोकर रक दें। और आपको नारंगी रंग मिल जाएगा। इसके अलावा आप एक चुटकी चंदन पाउडर को एक जग पानी में भिगो दे। इससे आपको नांरगी रंग मिल जाएगा।

लाल रंग
अगर आप लाल रंग बनाना चाहते है तो इसके लिए आप सूखे लाल चंदन को गुलाल के रुप में इस्तेमाल कर सकते हैं। या फिर जासवंती के फूलों को सुखाकर उसका पाउडर बना लें इसकी मात्रा बढ़ाने के लिए आटा भी मिला सकते हैं।

गुलाबी रंग
इसके लिए चुकंदर का इस्तेमाल कर सकते है। इसके लिए इसे घिस कर एक लीटर पानी में भिगो दें। इससे आपका गुलाबी रंग बनकर तैयार हो जाएगा। अगर आप चाहते है कि यह थोड़़ा गहरा गुलाबी रंग हो तो इसे रात भर के लिए भिगों दे। तो आपको सुबह डार्क गुलाबी रंग मिलेगा।

गीले लाल रंग के लिए दो चम्‍मच चंदन को करीब पांच लीटर पानी में अच्‍छी तरह उबाल कर उसमें दो से तीन बाल्‍टी पानी और मिला कर गाढ़ा लाल रंग बन जाता है। इसी तरह अनार के छिलकों को उबाल कर भी लाल रंग बन जाता है।

हरा रंग
हरा रंग बनाने के लिए गुलमोहर की पत्तियों का इस्तेमाल कर सकते है। इसके लिए इन्हें सुखाकर महीन पीस लें। इससे आपका हरा रंग बनकर तैयार हो गया। िसके अलावा आप पालक, धनिया और पुदीने की पत्तियों का पेस्ट पानी में घोलकर छान लें और इसका गीला हरा रंग के रुप में इस्तेमाल करें।

पीला रंग
सुखा पीला रंग बनाने के लिए दो चम्‍मच हल्‍दी में चाहे तो बेसन मिला लें। अगर होली में यह बच जाए तो इसे आप उबटन की तरह इस्तेमाल कर सकते है। अगर आप चाहती है कि पीला रंग थोड़ा कम लगे तो इसके लिए इसमें पाउडर मिला लें। जो आपकी स्किन को नुकसान की जगह फायदा पहुचाएगा।

इसके अलावा आप अमलतास, गेंदा और पीले सेवंती के फूलों की पंखुड़ियों को छांव में सुखाकर महीन पीस कर छान लें। या फिर गेंदे के फूलों को दो लीटर पानी में मिलाकर उबालें और रात भर भीगने दें। सुबह तक पीला रंग बनकर तैयार हो जाएगा।

नीला रंग
इसके लिए आप जकरंदा और जासवंती के फूलों की पंखुड़ियों को छांव में सुखाकर बारीक पीस लें। इनसे आप सूखा चमकीला नीला रंग बना सकते हैं। जकरंदा और जासवंती को ही बारीक पीस लें और अनुमान से पानी लेकर उसमें मिला कर रात भीगो दें, सुबह हल्‍का उबाल लें। इससे बहुत सुंदर नीला रंग तैयार होता है।

दोस्तों.. NewsHut24 की मोबाइल एप को डाउनलोड कीजिये....गूगल के प्लेस्टोर में जाकर NewsHut24 टाइप करे और यहाँ क्लिक कर के एप डाउनलोड करे..धन्यवाद. पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर। LIKE कीजिए NewsHut24 का facebook पेज। भी लाइक करे. कृपया अपने बहुमूल्य सुझाव भी दें. E-mail : - YourFriends@newshut24.com



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *